Saturday, September 19, 2020
ब्रेकिंग न्यूज
राष्ट्रपति, गृह मंत्री अमित शाह, राहुल गांधी समेत कई नेताओं ने दी प्रधानमंत्री को जन्मदिन की बधाईवायुसेना में शामिल हुआ दुश्मनों का काल राफेलकोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर पंजाब और चंडीगढ़ का दौरा करेगी केंद्रीय टीमसितंबर का महीना होगा पोषण माहः पीएमआज घर-घर विराजेंगे विघ्नहर्ता, जानें- गणेश स्थापना के शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्व व सब कुछपंजाब में दोबारा लग सकता है लॉकडाउन, सीएम अमरिेंदर ने कहा- उठा सकते हैं सख्‍त कदमIndependence Day 2020 प्रधानमंत्री मोदी के भाषण की ये हैं प्रमुख बातेंCovid-19 बढ़ानी है इम्‍यूनिटी और करना है अपना और परिवार का बचाव, तो अपनाएं ये टिप्‍स
राय

“डिजिटल इंडिया की वोटिंग भी अब होगी डिजिटल ”

Punjab Tribune Bureau | January 16, 2019 06:19 PM

जैसा की हम जानते है की भारत की वर्तमान सरकार (मोदी सरकार) द्वारा 2 जुलाई 2015 को“डिजिटल इंडिया” प्रोजेक्ट शुरू किया गया था जिस प्रकार मोदी सरकार द्वारा डिजिटल इंडिया एक छत्र अभियान की शुरुवात की गई थी उससे जन सामान्य के जीवन में कई बदलाव आये है और लोग आधुनिक प्रणालियों से जुड़े है जिससे कहा जा सकता कुछ प्रतिशत हमारा देश और आधुनिक हो चला है इसी के साथ साथ सरकार द्वारा बनाई गयी कई नीतियों का आकलन होना भी जरुरी है तभी तोह आने वाले समय की रूप रेखा जनि जायेगी की जिन जन प्रतिनिधियों को ४ साल पहले हमने चुना था उन्होंने हमारे लिए काम किये भी है या न नहीं.क्यूंकि आज सोशल मीडिया एक माध्यम तो है जिस पर सब अपने अपने विचार अलग अलग माध्यम से दे रहे है पर एकत्रित जानकारी मिलना और उसका जनता द्वारा प्रतिकार का विश्लेषण कोई नहीं कर रहा इसी लिए देश की राजनीती और देश के राजनेताओ का जनता द्वारा विश्लेषण करने के लिए “ट्रूपल” शुरू किया जा रहा है

 

कहाँ से यहाँ यह ख्याल ?

आज के इस आधुनिक और सोशल मीडिया के युग में हम जानते की हर खबर हर व्यक्ति तक स्मार्ट फ़ोन और सोशल मीडिया के माध्यम से पहुंचाई जा सकती है औरपहुंचाई भी जा रही है ,पर क्या हम तक जो खबर पहुंचाई जा रही है उसमे कहीं किसी राजनेता या मीडिया द्वारा बढ़ावे का आदर तो नहीं है.क्यूंकि कभी न कभी,कहीं न कहीं यह कहा जाता रहा है की यह “पेड न्यूज़ है”, वही खबर अगर पहुँच भी गयी है तो उसका विश्लेषण कौन कर रहा है ? जनता की आवाज कौन सुन रहा है ? कहा जाना जा रहा पर क्या हमने कभी यह विश्लेषण(एनालिसिस) होते देखा की उसी प्लेटफार्म से कहीं न खाई किसी न किसी मुद्दे पर चाहे वह लोक कल्याण का हो या विकास का हो उसपर जो वायदे किये गए थे वह पुरे हो पाएं या नहीं ।इसीलिए आज यह आवश्यकता बन गयी की कहीं न कहीं विश्लेषण के साथ साथ जन सामान्य का प्रतिकार भी जरुरी है  इसीलिए हमने यह प्लेटफार्म बनाया है जिसमे लोग स्वयं आकर इसपर रेटिंग और कमेंट कर बताएँगे कि उनके क्षेत्रीय नेता ने कार्य किया है या नहीं

ट्रूपल बनाने का उद्देश्य

ट्रूपल का उद्देश्य जनसामान्य की समस्या को उठाने तथा सुलझाने के साथ साथ रेटिंग के माध्यम से राजनेताओ को यह अहसास करना भी है की जनता उनके काम से कितनी खुश और कितनी पीड़ित है,क्योंकि राजनेता भी जनता की सेवा के लिए काम करे..जो कम करेगा जनता हमेशा उसी का ही साथ देगी भले ही वोह किसी भी दल का हो या निर्दलीय ही क्यों न हो

इसके साथ साथ हर वोह खबर भी लोग जाने जो कही न कही किसी भी राजनीति के प्रभाव के कारण दब गयी है या आने वाले समय में दबी जा सकती है..

स्वच्छ राजनीती की हमारी चाह आपके बेहतर कल के लिए

 

 

कैसे जुड़े ट्रूपल से ?

आज के इस आधुनिक युग में माना जाता है की लगभग हर 6 में से 1 व्यक्ति स्मार्ट फ़ोन का उपयोग कर रहा है इसके साथ ही साथ सभी लोग आज अधिक से अधिक मात्रा में सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते है इसीलिए वेबसाइट ,फेसबुक,ट्वीटर और इन्स्तेग्राम से आप ट्रूपल से एवं ट्रूपल आपसे जुड़ सकता है   

Website- http://www.troopel.com/

Facebook-https://www.facebook.com/troopel

Twitter-https://twitter.com/troopel

Instagram-https://www.instagram.com/troopel/

 

ट्रूपल की विशेषताएँ

  • जनता द्वारा इसपर खुद ही रेटिंग की जायेगी
  • राजनेता खुद अपना एवं अपने कार्य का आंकलन कर सकेंगे
  • अपनी बात और विचार पहुचने के लिए सीधे ट्रूपल को मश्ग करे
  • देश के सबसे पारदर्शी और विश्वसनीय होने का दावा
  • जनता स्वयं अपने विचार रख नेता के कार्य की रेटिंग करेगी
  • जनता के सारे सवाल प्लेटफार्म के माध्यम से उनके नेता द्वारा इंटरव्यू में पूछे जायेंगे
  • ट्रूपल के माध्यम से जनता और जननेता दोनों की राय और विचार एकदूसरे तक पहूँचाने का कार्य किया जाएगा

ट्रूपल के आगे क्या होंगे कदम ?

आगामी समय में देश के विभिन्न प्रदेशो में चुनाव है वही अगले साल २०१९ में लोक सभा के चुनाव को ध्यान में रखते हुए एक निर्धारित कैलेंडर तैयार किया गया है जिसमें जन भागीदारी और जन संपर्क कर बेहतर चुनाव प्रत्याशियों का विश्लेषण किया जाएगा,इसके साथ साथ कई नेताओं के साथ संवाद स्तफिओत करना,जन संपर्क करना,सर्वे एवं कई अन्य गतिविधिया की जाएगी जिसका केवल एक ही उद्देश्य है  की जनता और नेताओं का बेहतर संपर्क और उसका आक्लन करना ताकि किसी भी प्रकार से जनता की समस्याओ और उनके प्रतिक्रिया को सुना एवं समझा जा सके, ट्रूपल देश का सबसे विश्वसनीय प्लेटफार्म है जो पारदर्शिता रखते हुए जनता के हित एवं जनसेवक के लिए उच्चतम कार्य करने के लिए बनाया गया है

 

Have something to say? Post your comment
Must Read
राष्ट्रपति, गृह मंत्री अमित शाह, राहुल गांधी समेत कई नेताओं ने दी प्रधानमंत्री को जन्मदिन की बधाई
राष्ट्रपति, गृह मंत्री अमित शाह, राहुल गांधी समेत कई नेताओं ने दी प्रधानमंत्री को जन्मदिन की बधाई
वायुसेना में शामिल हुआ दुश्मनों का काल राफेल
कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर पंजाब और चंडीगढ़ का दौरा करेगी केंद्रीय टीम
कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर पंजाब और चंडीगढ़ का दौरा करेगी केंद्रीय टीम
सितंबर का महीना होगा पोषण माहः पीएम
सितंबर का महीना होगा पोषण माहः पीएम
आज घर-घर विराजेंगे विघ्नहर्ता, जानें- गणेश स्थापना के शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्व व सब कुछ
आज घर-घर विराजेंगे विघ्नहर्ता, जानें- गणेश स्थापना के शुभ मुहूर्त, पूजा विधि, महत्व व सब कुछ
पंजाब में दोबारा लग सकता है लॉकडाउन, सीएम अमरिेंदर ने कहा- उठा सकते हैं सख्‍त कदम
पंजाब में दोबारा लग सकता है लॉकडाउन, सीएम अमरिेंदर ने कहा- उठा सकते हैं सख्‍त कदम
Independence Day 2020  प्रधानमंत्री मोदी के भाषण की ये हैं प्रमुख बातें
Independence Day 2020 प्रधानमंत्री मोदी के भाषण की ये हैं प्रमुख बातें
Covid-19 बढ़ानी है इम्‍यूनिटी और करना है अपना और परिवार का बचाव, तो अपनाएं ये टिप्‍स
मनोज सिन्हा बनाए गए जम्मू-कश्मीर के नए उपराज्यपाल, गिरीश चंद्र मुर्मू का इस्तीफा मंजूर
रामनगरी का खोया गौरव लौटाने के लिए 491 वर्ष के बीच हुए अनगिनत संघर्ष
रामनगरी का खोया गौरव लौटाने के लिए 491 वर्ष के बीच हुए अनगिनत संघर्ष
नई शिक्षा नीति को भी मोदी कैबिनेट की मंजूरी, HRD का नाम अब शिक्षा मंत्रालय
नई शिक्षा नीति को भी मोदी कैबिनेट की मंजूरी, HRD का नाम अब शिक्षा मंत्रालय
नवयुग में जात पात का कोई महत्व नहीं: अश्विनी जोशी
नवयुग में जात पात का कोई महत्व नहीं: अश्विनी जोशी
और राय ख़बरें
इंप्रेशन पीआर- रखे आपके फर्स्ट इंप्रेशन का पूरा ख्याल क्वालिटी के साथ समझौता न करना ही सफलता का मूल मंत्र- अतुल मलिकराम उभरते हुए सिंगर्स के लिए एक नया प्लेटफार्म, न कोई लाइन न कोई इंतज़ार, घर बैठे दें ऑडिशन लोकसभा चुनाव में युवाओं के लिए ‘पॉलिटिकल’ तराने नए जीवन का आयाम, रोज करें प्राणायाम - ऊर्जा गुरू अरिहंत ऋषि इस कलयुग की रावण हैं ममता बैनर्जी- ऊर्जा गुरु अरिहंत ऋषि साउथ इंडियन स्टार निविन पाउली ने ’कायमकुलम कोचुनी’ के लिए की मार्शल आर्ट ट्रेनिंग किसानों के लिए योजनाओं के तहत हो रहे भ्रष्टाचार का खुलासा सफलता तक सही मार्गदर्शन द्वारा ही पहुंचा जा सकता हैं ’ट्रूपल’ करेगा महामंडलेश्वर ’लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी’ का सबसे बड़ा इंटरव्यू