National

बीटीपीएस के अनुबंध कर्मियों की रैली

Punjab Tribune Bureau | November 08, 2018 04:57 PM
नई दिल्ली: बदरपुर थर्मल पावर स्टेशन (बीटीपीएस) के सैकड़ों अनुबंध-कर्मियों ने मजदूर एकता कमेटी की अगुवाई में अपनी मांगों को लेकर मंडी हाउस से लेकर संसद मार्ग तक मार्च किया।
ये कर्मी बीटीपीएस को गैर-कानूनी तरीके से बंद करने, बिना किसी नोटिस, मुआवज़ा और पुनस्र्थापन के रोजगार से निकाले जाने का विरोध कर रहे हैं। इनकी मांग है कि बीटीपीएस को बंद करने का नोटिस और पर्याप्त मुआवज़ा दिया जाए, एनसीआर में वैकल्पिक रोजगार देकर उनका पुनर्वास किया जाए, सभी देय मजदूरी और अन्य बकाया राशि का भुगतान जल्दी से जल्दी किया जाए और सभी अनुबंध कर्मियों को अनुबंध प्रमाणपत्र दिया जाए।
रैली जैसे ही संसद मार्ग पहुंची, एक सभा में तब्दील हो गयी।
सभा का संबोधित करते हुए, बीटीपीएस से रिटायर्ड, ट्रेड यूनियन कार्यकर्ता और एडवोकेट श्री ओपी गुप्ता ने बताया कि इस संस्थान को बंद करने से पहले, नियोजित अनुबंध कर्मियों को कोई नोटिस नहीं दिया गया है। इस वक्त 400 से ज्यादा अनुबंध कर्मी कई सालों से यहां काम कर रहे हैं। इनमें से कई तकनीकी प्रशिक्षित जैसे आईटीआई और इंजीनियर ग्रेजुएट हैं। इन्हें बिना कोई नोटिस, मुआवजा और बकाया दिए रोजगार से बाहर कर दिया है। उन्होंने बताया कि, बीटीपीएस को कानूनी तरीके से नहीं बंद किया गया है। न ही पारदर्शी तरीका अपनाया गया है। औद्योगिक विवाद अधिनियम, 1947 के प्रावधान के तहत, कानून द्वारा स्थापित प्रक्रिया के बिना इस संस्थान को बंद नहीं कर सकता है। इसलिए बंद अवैध है और इसलिए प्रबंधन कानून के अनुसार दंडित होने का उत्तरदायी है।
सभा को संबोधित करते हुए मजदूर एकता कमेटी के महासचिव संतोष कुमार ने बताया कि पिछले कुछ सालों से बीटीपीएस में बारहमासी काम के लिए अनुबंध श्रमिकों को नियोजित करता रहा है। स्थायी कर्मियों की सेवानिवृत्ति, मृत्यु और स्थानान्तरण के कारण इनकी संख्या बहुत थोड़ी है। यहां ज्यादा से ज्यादा काम अनुबंध कर्मियों से संपन्न करवाया जाता रहा है। इन अनुबंध कर्मियों का भयंकर शोषण होता है। बीटीपीएस अनुबंध कर्मियों के बल पर चल रहा है। इन कर्मियों का शोषण कांट्रेक्टर और प्रबंधन, दोनों मिलकर कर रहे हैं। आज इसे प्रदूषण की वजह से बंद किया जा रहा है। अगर बंद करना है तो भी आप इसमें काम कर रहे कर्मियों को दूध में से मक्खी की तरह निकालकर नहीं फैंक सकते हैं।
सभा को संबोधित करने वालों में थे -  एटक के दिल्ली के सचिव धीरेन्द्र शर्मा, सीआईटीयू दिल्ली के सचिव अनुराग सक्सेना ने संबोधित किया। इन्होंने बीटीपीएस कर्मियों की मांगों को समर्थन करते हुए, केन्द्र सरकार से इस मामले में हस्तक्षेप करने की गुजारिश की और अनुबंध कर्मियों को उचित मुआवज़ा और पुनर्वास की मांग को दोहराया।
सभा के अंत में, बिरजू नायक, पंकज कुमार, महेश चंद, नंद लाल, अमर सिंह, राम विलास यादव की एक प्रतिनिधिमंडल ने केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री, श्री आर0के0 सिंह और श्रम मंत्री श्री संतोष कुमार गंगवार को अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा।
Have something to say? Post your comment
Must Read
Punjab on road to becoming Skill Capital of Country: Charanjit Singh Channi
Punjab on road to becoming Skill Capital of Country: Charanjit Singh Channi
Problem of stray cattle all set to go from Jalandhar city as MoU inked for shifting these animals to Kania Kalan Gaushala
Problem of stray cattle all set to go from Jalandhar city as MoU inked for shifting these animals to Kania Kalan Gaushala
Ropar Police unearths Army recruitment scam in Punjab
Ropar Police unearths Army recruitment scam in Punjab
Capt. Amarinder launches Rahul Gandhi’s flagship 'Shakti' project for Punjab congress workers
Capt. Amarinder launches Rahul Gandhi’s flagship 'Shakti' project for Punjab congress workers
Rotational irrigation programme from January 20 to 27
Rotational irrigation programme from January 20 to 27
2019 LS polls is not for electing PM, but ending Modi-Shah regime: Kejriwal
2019 LS polls is not for electing PM, but ending Modi-Shah regime: Kejriwal
Facebook faces 'record-setting' fine over privacy violations: Report
Facebook faces 'record-setting' fine over privacy violations: Report
In the name of Kabaddi, Punjab youth stay back in Canada
In the name of Kabaddi, Punjab youth stay back in Canada
Politics over Kartarpur corridor must stop: AAP
Politics over Kartarpur corridor must stop: AAP
Couple booked for cheating
Couple booked for cheating
Photographers demand strict action against killers of lens man
Photographers demand strict action against killers of lens man
Punjab Government gives big relief to the Unaided Colleges: - JAC
Punjab Government gives big relief to the Unaided Colleges: - JAC