Punjab

सोशल मीडिया के माध्यम से पंजाब के कैप्टन से मांगा जबाव

Punjab Tribune Bureau | April 14, 2019 07:12 PM

जलालाबाद: सोशल मीडिया पर इन दिनों चर्चा का विषय बनी पोस्ट कैप्टन साहेब जबाव दो ने सिद्ध कर दिया है कि राजनीतिज्ञ किसी किस्म का वादा करके भाग नही सकते। सोशल मीडिया पर पोस्ट पाने वाले आर.टी.आइ. कार्यकर्ता हरप्रीत महमी ने बताया कि विधान सभा चुनावों से पूर्व चुनाव मुहिम के दौरान हलके में करवाए प्रोगाम हलके में कैप्टन मुहिम के तहत अकाली सरकार की धक्केशाही से पीडि़त लोगों की शिकायतें लेकर रसीदें दी गई थी कि उन्हें सरकार बनने के 100 दिन के भीतर इंसाफ दिलाया जाएगा।

श्री महमी ने बताया कि उन्हें भरोसा था कि राज्य में सरकार बनने के बाद इंसाफ मिल सकेगा पर आज कैप्टन की सरकार के दो वर्ष बाद भी उन्हें न्याय नही मिल सका है। उल्टा उनके मामले में कोताही बरतने वाले पुलिस कर्मचारियों में से भजन सिंह द्वारा थाने में घुसकर मारपीट करने, धमकियां देने व वर्दी फाडऩे के आरोपों के तहत झूठी रपट दर्ज करवा दी गई। जब महमी से सोशल मीडिया पर डाली पोस्ट के बारे पूछा गया तो उन्होंने कहा कि चुनाव नजदीक आते देखकर राजनीतिक पार्टियों वोटरो से वादे करती है। जब उसने कैप्टन साहिब को शिकायत पत्र दिया गया था। उस समय चुनावों का माहौल था व अब भी चुनाव होने जा रहे है। हरप्रीत महमी ने सोशल मीडियां में पोस्ट डाल कर कैप्टन को अपील की कि उससे किया वादा पूरे करे नही तो वादा खिलाफी के लिए माफी मांगे।

 

 

Have something to say? Post your comment
Must Read