Punjab

राजीव गांधी संबंधी टिप्पणी मोदी की निचले स्तर की मानसिकता का प्रगटावा -कैप्टन अमरिन्दर सिंह

Rajinsh Sareen | May 06, 2019 05:56 PM

खटकड़ कलाँ: पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी संबंधी भद्दी टिप्पणी करने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर बरसते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि सत्ता में बने रहने के लिए उतावला हो रहा मोदी घटियापन की सीमाएं भी पार कर गया है।
           

प्रधानमंत्री द्वारा राजीव गांधी संबंधी की गई विवादास्पद टिप्पणी संबंधी पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल के जवाब में कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि कुर्सी खिसकती देख सत्ता के भूखे मोदी ने अपने चुनाव मुहिम के दौरान शिष्टाचार का दामन छोड़ दिया और सार्वजनिक सरोकारों को शर्मनाक ढंग से मज़ाक का पात्र बना कर रख दिया।
           

मुख्यमंत्री ने कहा कि मोदी की टिप्पणियाँ उसकी नफऱत भरी मानसिकता और निचले स्तर का प्रगटावा करती हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की टिप्पणियों की हर तरफ से हो रही आलोचना यह सिद्ध करती है कि लोकतांत्रिक प्रणाली को गंभीरता से लेने वाला कोई भी व्यक्ति या राजनैतिक संस्था ऐसे बेबुनियाद और झूठे प्रचार करने वाले को कभी भी माफ नहीं कर सकती। समूचे विरोधी पक्ष ने मोदी की घृणाजनक टिप्पणियों की आलोचना की जिससे यह संकेत मिलता है कि कोई भी व्यक्ति मुल्क की चुनाव प्रणाली को इस ढंग से बदनाम नहीं करना चाहता।
           

 

कैप्टन अमरिन्दर सिंह जो स्कूल में राजीव गांधी के सीनियर थे, ने पूर्व प्रधानमंत्री को सीधा, नम्र और ईमानदार शख्सियत बताया। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इन विशेषताओं के कारण जाने जाते हैं। उन्होंने कहा कि राजीव गांधी भारत को अथाह प्यार करने वाले थे और देश या यहाँ के लोगों को धोखा देने संबंधी सोचना मोदी की जंगली कल्पना का प्रगटावा है।
       

मोदी द्वारा उस व्यक्ति संबंधी झूठ बोलने पर जो खुद अपना पक्ष नहीं रख सकता, के लिए तीखी आलोचना करते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि एक चोर को दूसरा भी चोर ही दिखता है और एक झूठा व्यक्ति यह नहीं मान सकता कि और कोई व्यक्ति सच्चा भी होता है। 

कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा, ‘‘राजीव गांधी ने मुल्क के लिए अपना जीवन कुर्बान कर दिया और हमारे मौजूदा प्रधानमंत्री ने उस कुर्सी के गौरव को ठेस पहुंचायी जिस पर पिछले पाँच वर्षों से बैठा हुआ है।’’ उन्होंने कहा कि उसने पूर्व प्रधानमंत्री का नाम घसीट कर चुनाव को निचले स्तर तक ला दिया है।

मुुख्यमंत्री ने कहा कि यहाँ तक कि मोदी की अपनी पार्टी के नेता पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी हमेशा राजीव गांधी संबंधी बहुत अच्छे विचार रखते थे। उन्होंने कहा कि वाजपेयी ने अपने बयान में कहा था कि कैसे राजीव गांधी ने उनको संयुक्त राष्ट्र के प्रतिनिधिमंडल में शामिल करके उनकी जान बचायी थी क्योंकि इससे न्यूयार्क में वह अपनी गुर्दे की बीमारी का ईलाज करवा सके।  

कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि राजीव गांधी इस किस्म के मनुष्य थे जबकि दूसरे तरफ़ मोदी और उसकी पार्टी के नेता निराशा के आलम में गांधी परिवार के विरुद्ध हर किस्म के झूठे और घटिया दोष लगा रहे हैं और इनके पास मतदान लडऩे के लिए कोई भी सकारात्मक एजेंडा नहीं है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राजनैतिक मकसद के अंतर्गत राजीव गांधी का नाम बोफोजऱ् केस में लपेटा गया था परन्तु फरवरी, 2004 में यू.पी.ए. सरकार के सत्ता में आने से भी पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने उनको दोषमुक्त कर दिया था। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार 1998 से 2004 के दरमियान पूर्व प्रधानमंत्री के विरुद्ध कोई भी केस बनाने में नाकाम रही है।  

Have something to say? Post your comment
Must Read